vanital call to action

सबसे शक्तिशाली आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से भरा

काहन आयुर्वेदा का नारी स्वास्थ्य वर्धक हर्बल प्रोड्क्ट वेनीटल सिरप प्राप्त करें

चार आश्चर्यजनक लाभ से युक्त

वेनीटल

Card image cap
मासिक चक्र संतुलन

आपके मासिक धर्म को समय पर और नियमित रूप लाने में मदद करता है। आपको ऊर्जावान और स्वस्थ बनाये रखने में महत्वपूर्ण भुमिका निभाता है। आपके अंदर एक नये जोश और उत्साह का संचार करता है।

Card image cap
कमजोरी व थकान दूर करे

यह रोजमर्रा के काम से होने वाली थकान को दूर कर कमजोरी, आलस व चिड़चिड़ापन को दूर भगाने में सहायक है। इसका सेवन आपको हमेशा ऊर्जावान बनाकर एक स्वस्थ जीवन जीने में मदद करता है।

Card image cap
श्वेत प्रदर निवारक

आमतौर पर महिलाओं को होने वाली श्वेत प्रदर की समस्या में वेनीटल सिरप का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है। इसमें मौजूद आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां यौनांगों को स्वस्थ रखकर कमजोरी को दूर भगाते हैं।

Card image cap
प्रतिरक्षा वर्धक

आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को बनाये रखते हुए ये सिरप प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत बनाता है। छोटी-मोटी बीमारियों को आपके पास फटकने से रोकता है। आपके शरीर को शक्तिशाली बनाने में मदद करता है।

काहन आयुर्वेदा का बेहतरीन

महिला स्वास्थ्य वर्धक प्रोड्क्ट

vanital women choice-service img
महिलाओं के सपनों का

एकमात्र भरोसेमंद आयुर्वेदिक टॉनिक बस एक क्लिक दूर है

मासिक चक्र की सही नियमितता

समय पर मासिक धर्म न होना काफी हद तक आपको अंदर से झकझोर देता है। तनाव को बढ़ा देता है। वेनीटल टॉनिक मासिक चक्र की अनियमितता को ठीक करके आपको तनावरहित रखने में सहायक है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से आप लंबे समय तक ऊर्जावान और स्वस्थ रहते हैं।

कमजोरी और थकान दूर करता है

पूरे दिन के काम के लिए शरीर में अच्छी-खासी ऊर्जा को बनाये रखता है। कमजोरी और थकान को आपको महसूस नहीं होने देता। रोजमर्रा के काम आप आसानी से बिना थके कर पाते हैं। यह आयुर्वेदिक टॉनिक आपको हमेशा फुर्तीला और स्वस्थ बनाये रखता है।

रोगप्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि

आपकी इम्युनिटी को बढ़ाकर आपको स्वस्थ रखने में मदद करता है। आपको अंदर से और बाहर से स्ट्रॉन्ग बनाता है। इसकी प्राकृतिक जड़ी-बूटियां आपको छोटे-मोटे संक्रमण से बचाकर निरोग रखने में सहायता करते हैं। इसका नियमित सेवन आपको एक विशेष मजबूती प्रदान करता है।

रजोनिवृत्ति के समय आराम

वेनीटल महिलाओं के लिए एक हेल्थ टॉनिक है। ये मेनोपॉज यानी रजोनिवृत्ति के दौरान पेश आने वाली समस्याओं जैसे वेजाइनल डिस्चार्ज, घबराहट, चिड़चिड़ापन, कमर कटना आदि में आराम पहुंचाता है। इतना ही नहीं मानिसक स्वास्थ्य में भी बेहद लाभकारी है।

*** इस महीने 10 प्रतिशत की छूट इस महिला स्वास्थ्य प्रबंधन प्रोड्क्ट (वेनीटल) पर
vanital syrup video img

वेनीटल कैसे काम करता है

यह हर्बल टॉनिक महिलाओं के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बेहद हितकारी है। इसमें मौजूद 27 विभिन्न प्रकार की विशेष जड़ी-बूटियों की शक्तियां महिलाओं में ऊर्जा, ताकत, जोश और उत्साह को बनाये रखने में विशेष भुमिका निभाते हैं। शरीर से विषाक्त पदार्थों को निष्कासित करके अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त करने में मदद करती है। त्वचा को भी बाहर से और अंदर एक नई शक्ति प्रदान करती है।

इसके अतिरिक्त महिलाओं में थकान, कमजोरी, चिड़चिड़ापन, तनाव, ऐंठन, कमर कटना, भूख की कमी, जोश की कमी, मासिक चक्र की गड़बड़ी, हार्मोनल असंतुलन, रजोनिवृत्ति कष्ट आदि समस्याओं में लाभकारी है। महिलाओं को अच्छा स्वास्थ्य देन में, ऊर्जावान बनाये रखने में और एक खुशहाल जीवन जीने के लिए नियमित रूप से वेनीटल सिरप का सेवन लाभकारी माना जा सकता है।

वेनीटल आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है और आपको संक्रमण से दूर रखता है। यह प्राकृतिक हर्बल सामग्री का एक परीक्षण और शक्तिशाली सूत्रीकरण है। यह दुनिया भर में महिलाओं के बेहतर स्वास्थ्य प्रबंधन में बहुत मददगार है। यह एक शुद्ध तरलयुक्त हर्बल टॉनिक है, जो हर प्रकार से महिलाओं को स्वस्थ रखने में सहायक है।

आयुर्वेदिक

वेनीटल की विशेषताएं

vanital-product-features-icon
हार्मोन को संतुलित रखता है

महिलाओं में हार्मोन को संतुलन को बनाये रखने में मदद करता है। मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द व सूजन में आराम पहुंचाता है।

vanital-product-features-icon
कमजोरी-थकान से मुक्ति

शरीर में गजब की ऊर्जा, ताकत और जोश भर देता है। कमजोरी, थकान और आलस को दूर करके आपको उत्साहित और फुर्तीला बनाये रखता है।

vanital-product-features-icon
मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली

आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाकर आपको स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसका नियमित सेवन आपको अंदर से और बाहर से स्ट्रॉन्ग बनाता है।

vanital women choice
vanital-product-features-icon
संतुलित मासिक चक्र

आगे-पीछे होने वाले मासिक चक्र की गड़बड़ी को ठीक करता है। पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में आराम पहुंचाता है। सूजन को कम करता है।

vanital-product-features-icon
रजोनिवृत्ति में आराम

मेनोपॉज (रजोनिवृत्ति) के दौरान होने वाली समस्याओं जैसे वेजाइनल डिस्चार्ज, घबराहट, चिड़चिड़ापन, कमर कटना आदि में आराम पहुंचाता है।

vanital-product-features-icon
रक्त शुद्ध करता है

यह हर्बल टॉनिक शरीर में खून का शुद्धिकरण करता है। शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाल कर आपको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करने में मदद करता है।

बेहतरीन

वेनीटल प्रक्रिया

process img

मासिक चक्र का सही संतुलन

process img

कमजोरी व थकान को दूर करता है

process img

श्वेत प्रदर में आराम पहुंचाता है

process img

प्रतिरक्षा को बढ़ाता है

वेनीटल

सामग्री तथ्य

सामग्री का नाम
अशोक छाल
प्रति खुराक 800 (मि.ग्रा.)

इस पेड़ के पत्तों का उपयोग अधिकतर महिलाओं के रोग के लिए किया जाता है। स्त्रियों में मासिक चक्र की गड़बड़ी के उपचार में यह बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। महिलाओं में गर्भाशय की मांसपेशियों और एंड्रोमैट्रियल के लिए यह बेहतर इलाज है।

यह महिलाओं के रोगों के लिए एक रामबाण औषधी है। साथ ही आंख, कान, मुंह के रोगों में भी कारगर है। रक्त की उष्णता, मधुमेह, सूजन, अरूचि, विष और जलन को दूर करता है। पाचन संबंधी समस्याओं को भी ठीक करता है। वजन कम करने में लोध्रा छाल का उपयोग किया जा सकता है।

यह फूल के रूप में एक ऐसी औषधी है, जो महिलाओं के लिए रामबाण है। महिलाओं को गर्भधारण करने में मदद करते हैं ये फूल। साथ ही श्वेत प्रदर में भी धाय फूल के चूर्ण का सेवन करने से ये समस्या ठीक हो जाती है। मधुमेह, बुखार, नाक से खून बहने की समस्या में भी कारगर है।

महिलाओं के लिए मुन्नके का सेवन बेहद लाभकारी होता है। खून को साफ करने के लिए प्रसिद्ध है मुनक्का। मासिक धर्म के समय इसका सेवन करने से ये बॉडी को डिटॉक्स करके खून का थक्का बनने से रोकता है। साथ ही पीरियड् के समय होने वाले दर्द में आराम देता है।

इसमें लगभग 20 से 40 फीसदी क्यूमेल्डिहाइड होता है। साथ ही इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस, कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन ई भी काफी अच्छी मात्रा में होता है। ये सभी गुण आपको हेल्दी लाइफ जीने में मदद करते हैं। आपको अंदरूनी शक्ति देते हैं।

भूख की कमी, पाचन से संबंधित विकार के इलाज में नागरमोथ बेहद उपयोगी होता है। साथ ही बुखार, नेत्रों के रोग और पेट के कीड़ों का नाश करने में भी सहायक है। केवल इतना ही नहीं, जिन महिलाओं को स्तनपान के समय स्तन में दूध नहीं बनता है। उनके लिए भी नागरमोथा बेहद लाभकारी औषधी है।

ये एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधी है, जो इम्युनिटी को बढ़ाती है। वजन कम करने में सहायक है। पाचन विकार, सूजन को ठीक करने में मदद करती है। बुखार, जुकाम आदि में बढ़िया है। गर्भवती महिलाओं के लिए सौंठ पाउडर का सेवन उपयोगी साबित हो सकता है। मॉर्निंग सिकनेस और मितली के लिए रामबाण है।

आयुर्वेद में दारू हल्दी को एक विशेष जड़ी-बूटी माना गया है। इसका इस्तेमाल कान, आंख व पेट से संबंधित समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है। मधुमेह नियंत्रक औषधी के रूप में भी इसे जाना जाता है। घाव सुखाने, हड्डियों को जोड़ने में भी इस औषधी इस्तेमाल किया जाता है। गठिया व जोड़ों के दर्द में भी है कारगर।

शायद आप नहीं जानते होंगे कि कमल फूल एक बेहतर औषधि की तरह भी काम में आता है। कई रोगों के इलाज में कमल के फूल के फायदे मिलते हैं। यदि आपको बहुत ज्यादा प्यास लगती है, जलन, मूत्र रोग, कफज दोष, बवासीर आदि समस्या रहती है। तो ऐसे में आप में कमल के फूल से लाभ प्राप्त कर सकते हैं। त्वचा में निखार लाने में भी फायदा पहुंचाती है।

हरड़ का सेवन आपके पाचन तंत्र को ठीक रखता है। गैस, अपच और कब्ज जैसी समस्याओं में कारगर माना गया है। हरड़ का सेवन उल्टी में भी राहत दिला सकता है। वजन घटाने में भी हरड़ काफी लाभदायक माना जाता है। इसके अलावा दिल से जुड़ी बीमारियों से बचने के लिए हरड़ काम आता है। इसका इस्तेमाल सिर दर्द और बदन दर्द आदि में भी किया जाता है।

यह आँखों के लिए लाभकारी और बालों के लिए पोषक होता है। इसके अलावा असमय बाल पकने, गला बैठने, नाक संबंधी रोग, रक्त विकार, कंठ रोग तथा हृदय रोगों में फायदेमंद होता है। बहेड़ा की छाल खून की कमी, पीलिया और सफेद कुष्ठ में हितकारी है। महिलाएं अपने बालों को लंबे समय तक काले रखने में बहेड़ा के उपयोग कर सकती हैं ।

महिलाओं के लिए आंवला का प्रयोग कई तरह से फायदेमंद साबित हो सकता है। जैसे कि चेहरे पर दाग-धब्बे दूर करके चेहरे की सुंदरता को बढ़ा सकती हैं। बालों को घना व काला रख सकती हैं। इतना ही नहीं आंवले में मौजूद कुछ मिनरल और विटामिन मासिक धर्म के समय होने वाली ऐंठन में फायदेमंद होते हैं। मासिक चक्र की अनियमितता को ठीक करता है।

शतावरी एक ऐसी जड़ी-बूटी है जो महिलाओं की समस्याओं को दूर करने में बेहद प्रभावी। शतावरी के प्रयोग से पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द और ऐंठन को कम करने में बहुत मदद मिलती है। इसके अलावा इस दौरान होने वाली शारीरिक कमजोरी को दूर करने में भी शतावरी फायदेमंद होता है। इसलिए मासिक धर्म के समय महिलाओं को शतावरी का प्रयोग करने की सलाह दी जाती है।

ये एक ऐसा फूल है जिसका इस्तेमाल इनफर्टिलिटी की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है। इससे मासिक धर्म से जुड़ी कई तरह की समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है। फर्टिलिटी से जुड़ी जो भी परेशानी होती है, उसके लिए वात दोष में असंतुलन विशेष होता है। नागकेसर असंतुलित हुए वात दोष में सुधार करता है। नागकेसर का पाउडर एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। ये एंटीऑक्सीडेंट अंडे की गुणवत्ता को बढ़ाने में मदद करता है। साथ शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते हैं।

वासा को अडूसा भी कहते हैं। ये आयुर्वेदिक फूल है। इसका इस्तेमाल महिलाओं के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। डिलीवरी के समय होने वाली पीड़ा को कम करने में मदद करता है ये फूल। इसके अलावा श्वेत प्रदर को ठीक करता है और श्वेत प्रदर के कारण आई कमजोरी को भी दूर करने में मदद करता है।

यह एक प्रकार का ग्रास होता है जिसमें बेशुमार औषधीय गुण होते हैं। इसका इस्तेमाल हृदय रोग, खांसी, त्वचा संबंधी समस्याओं, उल्टी, ज्वर, धातुदोष, सिर दर्द, रक्त दोष, श्वास संबंधी समस्या, पित्त रोग, मांसपेशियों की एंठन और महिलाओं में हार्मोनल समस्याओं में भी लाभकारी है।

रसौत नामक जड़ी-बूटी महिलाओं में गर्भाशय की सूजन को कम करने में मदद करता है। इतना ही नहीं श्वेत प्रदर और रजोनिवृत्ति के बाद होने वाली समस्याओं के लिए भी इसका इस्तेमाल अच्छी मात्रा में किया जाता है। ये महिलाओं में ऊर्जा को बनाये रखता है। जोश और ताकत में वृद्धि करता है।

माजूफल में कई ऐसे औषधीय गुण होते हैं, जो महिलाओं के लिए बहुत लाभकारी साबित होते हैं। अगर गर्भावस्था के समय इसका सेवन किया जाए तो होने वाला बच्चा स्वस्थ और बुद्धिमान पैदा होता है। ये मासिक धर्म में भी फायदेमंस साबित होता है। इसकी चाय पीने से पीरियड्स के समय होने वाला दर्द कम होता है। ये त्वचा को टाइट रखकर लंबे समय तक जवान बनाता है।

खादिर नामक औषधी महिलाओं में श्वेत प्रदर यानी सफेद पानी की समस्या को ठीक करने के लिए भी किया जाता है। खादिर की छाल का काढ़ा बनाकर योनि को धोने से श्वेत और लाल दोनों प्रकार के ल्यूकोरिया में आराम मिलता है। इसके अलावा मधुमेह, गले की खराब इत्यादि में भी खादिर लाभकारी साबित होता है।

बेलगीरि शारीरिक कमजोरी को दूर करने में सहायक होती है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर एक अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करने में मदद करती है। खून की कमी दूर करती है। सिर दर्द में आराम पहुंचाती है। तनाव को कम करने में भी फायदेमंद होती है बेलगीरि।

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं मोचरस का सेवन करे तो रीढ़ की हड्डी को मजबूत होती है। इसके अलावा स्तनों में दूध की मात्रा में भी वृद्धि होती है मोचरस के सेवन से। इसके साथ-साथ कब्ज, एसिडिटी और सर्दी-खांसी में भी काम आता है मोचरस। थकान, कमजोरी, चक्कर आना ये सब समस्याएं भी ठीक होती हैं।

आयुर्वेद में खरैटी की जड़ और बीजों का इस्तेमाल औषधी के रूप में किया जाता है। प्राचीन समय से ही इस औषधी का प्रयोग शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए किया जाता रहा है। महिलाओं में रक्त प्रदर और श्वेत प्रदर की समस्याओं को ठीक करने के लिए भी यह बहुत ही अधिक उपयोगी होता है। यह ऊर्जा वर्धक भी माना जाता है। जो महिलाओं को फुर्तीला बनाने में मदद करता है।

ये एक प्रकार की बेल होती है जो लगभग पूरे भारत में पाई जाती है। केवल इस बेल की जड़ को ही औषधी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। यह बहुत ही अधिक प्रभावशाली है। यह रक्तशोधक के काम में आती है। सूजन को कम करती है। गठिया में आराम देती है। पीरियड्स में होने वाली पीड़ा को हरने में सक्षम है।

इसे जवाकुसुम के नाम से भी जाना जाता है। किंतु मुख्यत गुड़हल ही कहा जाता है। यह दिखने में बहुत ही आकर्षक और औषधीय गुणों से भरा है। इसके प्रयोग से अपच, बुखार, घबराहट की समस्या दूर होती है। इसके अलावा गुड़हल की पत्तियों के इस्तेमाल से त्वचा की सेहत और आयरन की कमी को ठीक किया जा सकता है। महिलाओं में तनाव को कम करने में कारगर औषधी है।

इस आयुर्वेदिक औषधी की मदद से महिलाओं में बांझपन की समस्या को ठीक किया जा सकता है। कंसीव करने के लिए भी दालचीनी का सेवन बहुत लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा मासिक धर्म की कमी व अधिकता की समस्या को ठीक करके पीरियड्स की नियमितता को बनाये रखने में मददगार साबित होता है।

पेट से संबंधित समस्याओं व पाचन तंत्र की परेशानी में बड़ी इलायची बहुत ही गुणकारी होती है। यह भूख की कमी को ठीक करती है। भोजन को पचाने में मदद करती है। मुंह की दुर्गंध को दूर करती है। उल्टी, पेट की गैस में आरामदायक है। घावों को भरने में भी सहायक है। नींद ना आने की समस्या में भी इलायची का प्रयोग किया जा सकता है।

यह बहुत काम की आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है। लौंग का सेवन महिलाओं के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। पीरियड्स को रेगुलर लाने में लौग का सेवन हितकारी होता है। महिलाओं में ओवुलेशन बेहतर होता है। इतना ही नहीं गर्भधारण की संभावना को बढ़ाने में भी लौंग श्रेष्ठ जड़ी-बूटी साबित होती है।

vanital-ingredient
भरोसा

काहन आयुर्वेदा का

no side effects
trusted brand
100 percent natural
fssai
फ़ीचर उत्पाद

वेनीटल के साथ महिलाएं रहें स्वस्थ, फिट और सेहतमंद

  • vanital
  • vanital
  • vanital
  • vanital
  • vanital
  • vanital
  • vanital
  • vanital
वेनीटल — महिलाओं का पसंदीदा सिरप
(53 Customer Review)
MRP: ₹ 745.00     OFFER Price: ₹ 670.00
विशुद्ध जड़ी-बूटियों के मिश्रण से वेनीटल आयुर्वेदिक टॉनिक (सिरप) का निर्माण किया गया है। जिनकी मदद से महिलाओं के हर वो शारीरिक कष्ट व रोग दूर होते हैं, जो उन्हें जिंदगी की रेस में कहीं पीछे छोड़ देते हैं। आपको एक सामान्य जीवन जीने में मदद मिलती है। हर उम्र की महिला के लिए यह हर्बल टॉनिक पूरी तरह सुरक्षित है। इस दवा का कोई साइड इफेक्ट नहीं है।

Online available on

amazon
flipkart
health mug
kaahan